गुरुवार 23 फ़रवरी 2017  

Home / Religion Newspage 6

Religion News

इतिहास में पहली बार यहां हुआ ‘किन्नरों’ का पिंडदान

भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ जब किन्नरों का पिंडदान किया गया। बनारस के पिशाचमोचन कुंड पर शनिवार को देश भर के किन्नरों का जमावड़ा लगा हुआ है, जहां देश भर से महादेव की नगरी काशी आए किन्नरों ने अपने पूर्वजों को मोक्ष दिलाने के लिए पिंडदान किया। यह कार्यक्रम उज्जैन किन्नर अखाड़े के महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ...

Read More »

इस बार इतने दिनों का होगा श्राद्ध, ध्यान रखे यह बाते

इस वर्ष यानी 2016 में श्राद्ध पक्ष की 1 तिथि कम हो गई है। श्राद्ध पक्ष 16 से शुरू हो गए हैं जो 30 सितंबर तक चलेंगे। यानी 15 दिन तक श्राद्ध रहेंगे। अष्टमी व नवमी का श्राद्ध 24 सितंबर को एक ही दिन होने से यह 16 न होकर 15 दिन के ही रहेंगे। 1] श्राद्ध में जौ, मटर ...

Read More »

क्या आचार्य चाणक्य ने खुद प्राण त्यागे थे, बरक़रार है वो रहस्य

चाणक्य, चंद्रगुप्त मौर्य के महामंत्री थे। उन्होंने नंदवंश का नाश करके चन्द्रगुप्त मौर्य को राजा बनाया था। ‘कौटिल्य’ नाम से भी विख्यात चाणक्य ने अर्थशास्त्र नाम का महान ग्रंथ लिखा है। चाणक्य का असली नाम कौटिल्य नहीं बल्कि विष्णुगुप्त था। इस बात का उल्लेख मुद्राराक्षस नाम के ग्रंथ में मिलता है। विष्णुगुप्त तक्षशिला (वर्तमान में रावलपिंडी के पास) के निवासी ...

Read More »

जानिए क्यों करते है ऋषि पंचमी का व्रत

ऋषि पंचमी पर सप्त ऋषियों की पूजा की जाती है। ‘शतपथ ब्राह्मण’ के अनुसार गौतम, भारद्वाज, विश्वामित्र, जमदग्नि, वसिष्ठ, कश्यप और अत्रि हैं। जबकि ‘महाभारत’ के अनुसार मरीचि, अत्रि, अंगिरा, पुलह, क्रतु, पुलस्त्य और वसिष्ठ सप्तर्षि माने गए हैं। ऋषि पंचमी के दिन इन्हीं ऋषियों की पूजा की जाती है। बात बहुत पुरानी है। एक गांव था। वहां एक उत्तंक नाम का ...

Read More »

बलूचिस्तान में स्थित है 51 शक्तिपीठों में यह एक शक्तिपीठ

पडोसी देश पाकिस्तान का पश्चिमी प्रांत है ‘बलूचिस्तान’। बलूचिस्तान की राजधानी क्वेटा है। यहां के लोगों की प्रमुख भाषा बलूच या बलूची है। बलूचिस्तान नाम का क्षेत्र बड़ा है, और यह ईरान (सिस्तान व बलूचिस्तान प्रांत) तथा अफगानिस्तान के साथ जुड़ा हुआ है। Click here : यहां रोज़ाना रासलीला करते है श्री कृष्ण, जिसने देखने की हिम्मत की वो.. बलूच लोगों ...

Read More »

यहां रोज़ाना रासलीला करते है श्री कृष्ण, जिसने देखने की हिम्मत की वो..

मथुरा| भारत में ऐसी कई जगह हैं, जो कई अपने रहस्यों के कारण हमेशा चर्चा का विषय बनी रहती हैं। कान्हा की नगरी मथुरा वृंदावन में निधिवन ऐसी ही एक जगह है जो अपने रहस्य के लिए जानी जाती है। Must Read : भारत में यहां स्थित है ‘मंदिरों’ का शहर मान्यता है कि वृंदावन में स्थित निधिवन में आज भी ...

Read More »

जन्माष्टमी पर रहेगा विशेष संयोग, यूं रहेगा फलदायी

इस बार कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व इस 25 अगस्त को अष्टमी और उनके जन्म नक्षत्र रोहिणी के पावन संयोग में मनेगी। इस दिन अष्टमी उदया तिथि में और मध्य रात्रि जन्मोत्सव के समय रोहिणी नक्षत्र का संयोग रहेगा। भादो महीने की कृष्ण पक्ष की अष्टमी पर गुरुवार 25 अगस्त को कृष्ण जन्मोत्सव की धूम रहेगी। विशेष संयोग के साथ भगवान ...

Read More »

कावड़ उठाने में महिलाये भी पीछे नहीं, खंडवा में निकाली विशाल कावड़ यात्रा

खंडवा। श्रावण को भगवान शिव का अतिप्रिय माह माना जाता है। हिन्दू धार्मिक मान्यताओ के अनुसार श्रावण माह में भगवान शिव को प्रसन्न करने हेतु कावड़ में जल भरकर ले जाया जाता है, श्रद्धा अनुसार पैदल यात्रा कर कावड़ में भरें जल से महादेव का जलाभिषेक किया जाता है। इससे भोले भंडारी सभी मनोकामना पूर्ण करते है।आपने पुरुषो को तो कावड़ ...

Read More »

भारत में यहां स्थित है ‘मंदिरों’ का शहर

मंदिरों का शहर है ‘महाबलीपुरम’। यह शहर तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से 55 किमी. दूर है, जो बंगाल की खाड़ी के तट पर स्थित है। कभी मामल्लापुरम के नाम से मशहूर मंदिरों का यह शहर भव्य मंदिरों, स्थापत्य कला और सागर-तटों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। 7वीं सदी में यह शहर पल्लव राजाओं की राजधानी था। जो द्रविड वास्तुकला की ...

Read More »

कामयाबी हासिल करने के लिए मददगार साबित होंगे यह 3 नुस्खे

सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता। सफलता कड़ी मेहनत और लगन से ही पाई जा सकती है। बशर्ते सफलता के लिए किए जाने वाले प्रयास सही हों। यदि सही दिशा और रणनीति के साथ आप मेहनत करते हैं, सफलता जरूर मिलती है। दृढ़ इच्छाशक्ति : सफलता में इच्छाशक्ति की बहुत बड़ी भूमिका रहती है। इच्छाशक्ति आपको ज्ञान और मेहनत से ...

Read More »