शनिवार 25 मार्च 2017  

Home / Crime / पिता पर लगाया रेप का इल्जाम जूठा निकला, बेटी पर होगा केस

पिता पर लगाया रेप का इल्जाम जूठा निकला, बेटी पर होगा केस

ठाणे। पिता को बलात्कार की झूठी शिकायत में फंसाने वाली युवती के खिलाफ अदालत ने मुकदमा चलाने का फैसला किया है। विशेष न्यायाधीश मृदुला वीके भाटिया ने यह फैसला सुनाते हुए पिता को बलात्कार और पोक्सो अधिनियम के मामलों से बरी कर दिया।

न्यायाधीश ने कहा, लड़की के खिलाफ मुकदमा चलाने से समाज में संदेश जाएगा कि कानून का दुरुपयोग करने पर कार्रवाई हो सकती है। मामला नवी मुंबई का है। सन 2013 में 16 साल की लड़की ने अपने पिता पर यौन उत्पीड़न और बलात्कार का आरोप लगाया।

कानूनी प्रावधानों के अनुसार नाबालिग लड़की का मामला पोक्सो अधिनियम में दर्ज हुआ और पिता को गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में लड़की ने अदालत को बताया कि दोनों के बीच झगड़ा होने पर उसने अपने पिता के खिलाफ बलात्कार का झूठा मुकदमा दर्ज कराया था।

सुनवाई के दौरान यह बात सामने आने पर न्यायाधीश ने इस पर नाराजगी जताते हुए पोक्सो अधिनियम का दुरुपयोग करने पर फटकार लगाई। कहा कि उसकी इस हरकत से एक व्यक्ति (पिता) की सामाजिक प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा और मानसिक प्रताड़ना हुई। पिता को तीन साल तक जेल में रहना पड़ा। विशेष न्यायाधीश के आदेश के बाद अब पिता की रिहाई होगी।