Home / Religion

Religion

शनि जयंती कल, जानें कैसे कार्य करने से प्रसन्न होंगे शनि देव!

इस बार शनि जयंती विशेष योग में 25 मई 2017 को मनाई जाएगी। शनि को क्रूर ग्रह भी माना जाता है। वह इसलिए कि जब शनि किसी व्यक्ति को प्रभावित करते हैं, तो उसे उसके कर्मों के आधार पर ही फल देते हैं। यदि किसी ने गलत काम किए हैं, तो शनि उसको उतनी ही क्रूर सजा देते हैं। यदि ...

Read More »

तिरुपति बालाजी के कंप्यूटर पर वायरस अटैक!

तिरुपति। रैंसमवेयर वायरस ‘वानाक्राई’ की दहशत बढ़ती जा रही है। ताजा खबर यह है कि इस वायरस ने तिरुपति मंदिर के कंप्यूटरों पर भी हमला बोला दिया है। मंदिर के संचालन में काम आने वाले दस कंप्यूटर हैक कर लिए गए हैं। इसके बाद शेष 20 कंप्यूटरों पर काम रोक दिया गया है। तिरुमला तिरुपति देवस्थानम् (TTD) के कार्यकारी अधिकारी ...

Read More »

नया वाहन ख़रीदे तो, ऐसे करे विधि-विधान से पूजा

अगर आप नई कार खरीदने का मूड बना रहे हैं तो ये खबर आप के लिये है। हम आप को आज कार पूजन की विधि बताने जा रहे हैं। जिसके बाद आपकी कार जब घर में प्रवेश करेगी तो उसके साथ पॉजटिव एनर्जी जल छिड़क कर करें पूजन की शुरुआत नई कार पर सबसे पहिले आम के पत्ते से तीन ...

Read More »

गौतम बुद्ध से जुडी ये 21 बातें नहीं जानते होंगे आप

गौतम बुद्ध का जन्म 563 ई.पू. में नेपाल की तराई में स्थित कपिलवस्तु के लुम्बिनी ग्राम में हुआ था। इन्होंने बौद्ध धर्म की स्थापना महात्मा बुद्ध ने की थी। इनके बचपन का नाम सिद्धार्थ था। सिद्धार्थ की मां का नाम महामाया और पिता का नाम शुद्धोदन था। माता के देहान्त के बाद इनका लालन-पालन इनकी मौसी गौतमी ने किया। गौतम ...

Read More »

तो इस कारण जनेऊ धारण करते है पुरुष

उपनयन संस्कार को ही ‘यज्ञोपवित संस्कार’ कहा जाता है, इस दौरान जनेऊ धारण किया जाता है। दरअसल जनेऊ तीन धागों वाला एक धागा होता है। यह सूत से बना पवित्र धागा होता है, जिसे यज्ञोपवितधारी व्यक्ति बाएं कंधे के ऊपर तथा दाईं भुजा के नीचे पहनता है। कौन पहन सकता है- बालक जब 10 से 12 वर्ष की आयु का ...

Read More »

एक ऐसा मंदिर जिसके पट खुलते है, केवल अक्षय तृतीया के दिन

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में हैं एक ऐसा मंदिर जो अक्षय तृतीया के दिन खुलता है। यह मंदिर दीवाली के बाद बंद कर दिया जाता है। यह मंदिर काफी प्राचीन है। इसलिए प्राकृतिक आपदाओं से क्षतिग्रस्त हो गया था। इसलिए मंदिर का पुर्ननिर्माण 19वीं शताब्दी में किया गया था। यह मंदिर देश की दूसरी सबसे पवित्र नदी को समर्पित है। ...

Read More »

यहां प्रेमी जोड़ो की मुराद पूरी करते है हनुमान जी

अहमदाबाद। जब परिवारवाले सपॉर्ट नहीं करते तो प्रेमी जोड़े कन्फ्यूज हो जाते हैं। कैसे शादी की जाए और शादी का कानून रजिस्ट्रेशन कैसे हो, ये बातें उन्हें परेशान करती हैं। ऐसे परेशान प्रेमी जोड़ों की मदद करते हैं ‘लगनिया हनुमान’। अहमदाबाद में इस नाम से एक मंदिर है जो प्रेमी जोड़ों के बीच फेमस है। एक-दूसरे का जीवनसाथी बनने के ...

Read More »

इस मंदिर में लड्डू नहीं, सैंडविच-बर्गर का मिलता है प्रसाद!

भगवान और मंदिर के प्रति बहुत आस्थावान होते हैं और भगवान के दर्शन के लिए मंदिर में जाना अपना सौभाग्य समझते हैं। आज हम आपको एक ऐसे ही विशेष मंदिर के बारे में बता रहे हैं जहां प्रसाद के रूप में लड्डू- पेड़ा नही बल्कि ब्राउनीज, सैंडविच और बर्गर दिया जाता है। जी हां, चेन्नई के पडप्पई में बने जय ...

Read More »

मनुष्य को जगाने के लिए, प्रकृति ने दिए है ये 2 अलार्म

प्रकृति ने हमें सब कुछ दिया है, लेकिन हमने प्रकृति की ओर ध्यान ही नहीं दिया। प्रकृति ने हमें सुबह जागने का अलार्म भी दिया है। यह अलार्म स्वयं मनुष्य को जगाने के लिए मौजूद रहते थे। लेकिन हमने इन्हें भी विलुप्ति की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। प्रकृति में मौजूद प्राकृतिक अलार्म में मुर्गे की बांग, कोयल ...

Read More »

साईं बाबा ने 50 साल पहले, शिरडी के लिए की थी यह भविष्यवाणी

संत कवि श्री दासगणु महाराज ने महाराष्ट्र के संतों के संबंध में ऐतिहासिक जानकारी एकत्र कर उसे काव्यबद्ध किया है। मराठी के लोकप्रिय ओवीबद्ध छंद में उन्होंने संतों का चरित्र चित्रण किया है। श्री दासगणु शिरडी के श्री साईबाबा के सान्निध्य में दीर्घ काल तक रहे। बाबा की इच्छा के अनुसार उन्होंने ‘भक्तिलीलामृत’, ‘भक्तिसारामृत’ और संतकथामृत नामक संत चरित्रों की ...

Read More »