डिजिटल पेमेंट को अपनाने के लिए, आगे आ रहे भारतीय


भारतीय लोग डिजिटल पेमेंट व्यवस्था को बहुत तेजी से अपना रहे हैं। यहां 78 फीसद लोग इस व्यवस्था को अपनाने को लेकर उत्सुक हैं। ग्लोबल पेमेंट सॉल्यूशन कंपनी वीजा ने यह जानकारी दी है। वीजा ने यूजीओवी के साथ मिलकर इस संबंध में सर्वेक्षण किया था। वीजा के भारत एवं दक्षिण एशिया के ग्रुप कंट्री मैनेजर टीआर रामचंद्रन ने कहा, ‘सरल, सुरक्षित और तेज ई-कॉमर्स अनुभव भविष्य में भुगतान के तरीकों को तय करने का अहम कारक है।

अध्ययन में पाया गया है कि उपभोक्ता सतत रूप से डिजिटल पेमेंट व्यवस्था को अपना रहे हैं। साथ ही वे सुरक्षित तरीकों की ओर भी ध्यान दे रहे हैं।’ सर्वेक्षण में पाया गया कि डिजिटल पेमेंट माध्यम की सरल प्रक्रिया के चलते लोग इसकी ओर तेजी से आकर्षित हो रहे हैं। 86 फीसद लोगों ने माना कि उन्होंने सहूलियत के लिए इस व्यवस्था को अपनाया है।

पहले की तुलना में नकदी का प्रयोग कम कर चुके लोगों में से 70 फीसद लोगों ने माना कि नकदी से दूर होने के पीछे मुख्य कारण डिजिटल माध्यम की सुविधा, दक्षता और तेजी है। सर्वेक्षण में यह जानने की कोशिश की गई कि डिजिटल अर्थव्यवस्था अपनाने के प्रति भारतीय उपभोक्ताओं की धारणा कैसी है। सर्वेक्षण में 41 फीसद ने कहा कि अब भी दुकानदार नकद में ही भुगतान चाहते हैं।

वहीं 39 फीसद ने डिजिटल भुगतान में सुरक्षा पर चिंता जताई। ऑनलाइन पेमेंट करते हुए 81 फीसद उपभोक्ताओं ने सुविधा से ज्यादा सुरक्षा को प्राथमिकता दी। सुरक्षा को प्राथमिकता देने वालों में सभी वर्ग और उम्र के लोग थे। उम्र के तीसरे-चौथे दशक में चल रहे लोग डिजिटल पेमेंट को सबसे तेजी से अपना रहे हैं।

उच्च आय वर्ग वालों में भी डिजिटल पेमेंट की ओर झुकाव ज्यादा देखा गया। सर्वेक्षण के मुताबिक, सालभर पहले के 33 फीसद की तुलना में नकदी का प्रयोग घटकर 31 फीसद हुआ है। अगले 12 महीनों में यह 25 फीसद के स्तर पर पहुंच सकता है।[एजेंसी]

Share this...
Share on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on Twitter0