बैंककर्मी ने कि खुदखुशी, 16 करोड़ के गबन का था इल्जाम

जयपुर। राजस्थान के अलवर जिले में स्थित अलवर अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक में 16 करोड़ रुपए के गबन के मामले में आरोपी बैंक लिपिक झम्मन लाल सोमवंशी ने आत्महत्या कर ली। उनका शव मंगलवार को उत्तरप्रदेश के मथुरा जिले के गोवर्धन कस्बे में स्थित सोमवंशी धर्मशाला में संदिग्ध अवस्था में मिला है।

एक महिला ने कमरे में उसका शव पड़ा देखा। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस के अनुसार दीवार पर टंगे कपड़ों से बरामद ड्राइविंग लाइसेंस व बैक सर्विस का परिचय पत्र मिलने से उसकी शिनाख्त हो सकी।

गौरतलब है कि एसओजी ने 21 दिसंबर को अर्बन बैंक हुए गबन के आरोप में बैंक सीईओ महेश मुदगल, चेयरमैन मृदुल जोशी, डायरेक्टर अशोक जोशी, बैंक के पूर्व चेयरमैन ओमप्रकाश सैनी व मास्टर माइंड अभिषेक जोशी को गिरफ्तार किया था। साथ ही सीबीआई ने 20 दिसंबर को बैंक में गबन के मामले में लिपिक झम्मन लाल सहित बैंक के दो अन्य कर्मचारियों को पूछताछ के लिए जयपुर बुलाया था। उनसे पांच बार पूछताछ हुई थी।

पर‍िजनों का कहना है कि झम्मन पूछताछ से काफी परेशान था और मथुरा स्थित तीर्थस्थल गोवर्धन जाने की बात कह कर घर से निकले थे। अगले दिन हमें पुलिस से उनकी मौत की सूचना मिली।