कैशलेस इंडिया : ऐप-कार्ड छोडो, अब आधार कार्ड ही काफी है

सोमवार से एक नई सुविधा शुरू हो रही है, जिससे आपको खरीदारी का भुगतान करने के लिए न तो मोबाइल की जरूरत होगी, न ही किसी कार्ड या ऐप की। बस आपका आधार नंबर ही इसके लिए काफी है। अपना आधार नंबर लेकर दुकानदार के पास जाइए, सामान खरीदिए और आधार नंबर बताकर पेमेंट कर दीजिए। न तो कैश लेकर जाना होगा, न ही एटीएम या डेबिट कार्ड की जरूरत होगी। यहां तक कि अगर आपके पास मोबाइल न भी हो तब भी आप आसानी से पेमेंट कर सकते हैं।

ऐसे उपयोग करें- अगर आप खरीदार हैं तो आपके पास आधार कार्ड या उसका नंबर होना चाहिए। एक बात का ध्यान रखना जरूरी है कि जिसका आधार नंबर होगा, उसे पेमेंट के समय उपस्थित रहना जरूरी है। एक बात का ध्यान रखना जरूरी है कि आपका आधार नंबर आपके बैंक खाते से जरूर जुड़ा हो, वरना इस सुविधा का लाभ आप नहीं उठा पाएंगे।

दुकानदार को ऐसे भुगतान- दुकानदारों के पास एंड्रॉयड स्माकर्टफोन तथा इंटरनेट या डेटा पैक होना जरूरी होगा। इसी के साथ उन्हें अपने फोन पर आधार पेमेंट ऐप (कैशलेस मर्चेंट ऐप) भी डाउनलोड तथा इंस्टॉल करना होगा। इस ऐप से दुकानदार का बैंक खाता जुड़ा रहेगा। दुकानदारों को अपने मोबाइल फोन के साथ एक फिंगरप्रिंट रीडर (बायोमीट्रिक स्कैभनर) भी लगाना होगा, जो लगभग 2000 रुपए में बाजार में उपलब्ध है।

ऐसे समझे-
-> मान लीजिए, कमलेश एक दुकानदार हैं और शशि एक ग्राहक।
-> कमलेश की दुकान पर शशि कुछ सामान लेने पहुंचे और खरीदारी के बाद बिल बना 2000 रुपए का।
-> अब कमलेश ने अपने एंड्रॉयड मोबाइल फोन पर आधार पेमेंट ऐप (कैशलेस मर्चेंट ऐप) का उपयोग शुरू किया।
-> सबसे पहले वो शशि से उनका आधार नंबर मांगेंगे। इस नंबर को फीड करने के बाद ऐप में उन बैंकों के नाम की सूची आ जाएगी, जिनमें शशि का बैंक खाता होगा। शशि इस सूची में से बैंक का चयन करेंगे और पेमेंट की जाने वाली रकम यानी 2000 रुपए लिखेंगे।
-> यह काम पूरा होते ही बायोमीट्रिक स्कैमनर पर उंगली रखनी होगी, जो पासवर्ड के रूप में स्वीकार की जाएगी और पेमेंट हो जाएगा।